International Gita Mahotsav: अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में वीआर तकनीकी से गीता स्थली ज्योतिसर के कर सकते हैं साक्षात दर्शन

International Gita Mahotsav: अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में वीआर तकनीकी से गीता स्थली ज्योतिसर के कर सकते हैं साक्षात दर्शन

International Gita Mahotsav: जिला कुरुक्षेत्र में चल रहे अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव के दौरान वर्चुअल रियलटी (वीआर) तकनीक से गीता स्थली ज्योतिसर के साक्षात दर्शन किए जा सकते हैं। इस गीता स्थली के इतिहास को देखने और सुनने के लिए लोग उत्सुकता दिखा रहे हैं। वीआर तकनीक से ज्योतिसर के दर्शन करवाने के लिए सूचना, जनसंपर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग की तरफ से एक विशेष प्रोजेक्टर राज्यस्तरीय प्रदर्शनी में लगाया है।

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव तथा सूचना, जनसंपर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग के महानिदेशक डॉ अमित अग्रवाल के प्रयासों से ही राज्यस्तरीय प्रदर्शनी में वीआर तकनीकी के प्रोजेक्ट को लगाया गया है। इस वीआर प्रोजेक्ट का उदघाटन 17 दिसंबर को उपराष्ट्रपति श्री जगदीप धनखड़ व मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने किया था। वीआर तकनीक के माध्यम से गीता स्थली ज्योतिसर के साक्षात दर्शन करवाने के लिए विशेष साफ्टवेयर का प्रयोग किया गया है।

गीता महोत्सव में मचा शोर हरयाणवी संस्कृति का हुआ जोर, म्हारा हरियाणा म्हारी शान

ALSO READ :   INLD News: इनेलो पार्टी 6 अप्रैल को दिल्ली में किसान घाट पर स्वर्गीय देवीलाल की मनाएगी पुण्यतिथि 

अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में विभिन्न राज्यों की संस्कृति के साथ-साथ हरियाणा की संस्कृति भी लोगों को भा रही है। हरियाणा के पोशाक पयर्टकों के बीच चलन बना हुआ है। गीता महोत्सव में हर जगह हरियाणा की संस्कृति की झलक नजर आ रही है। बच्चे, जवान, बजुर्गों सभी के बीच सभी में हरियाणा की संस्कृति का चस्का चढ़ा हुआ है। हरियाणा की कला और शिल्प में नृत्य, संगीत, मिट्टी के बर्तन, कढ़ाई, पेंटिंग, बुनाई, मूर्तिकला आदि के विभिन्न रूप शामिल हैं। शिल्पकारों के लिए यह आय का प्रमुख स्रोत होने के अलावा, ये कला रूप पर्यटकों के बीच सुपरहिट हैं। मिट्टी के बर्तनों के रंग, मिट्टी के सांचे आदि पयर्टकों को बेहद आकर्षित कर रहे है। गीता महोत्सव के मंच पर हरयाणवी कलाकार धोती पगड़ी, घाघरा घाघरी पहनकर अपनी प्रस्तुति दी रहे है। जिससे पयर्टक आकर्षित हो रहे है और गीता महोत्सव के हरियाणवी पंडाल में जमकर झूम रहे हैं।

ALSO READ :   INLD News: मेवात में JJP और AAP को लगा बड़ा झटका, हजारों समर्थकों के साथ बड़े नेता इनेलो में हुए शामिल

ब्रहमसरोवर के तट पर प्राकृतिक चिकित्सा के साथ योग के अनूठे संगम के हो रहे है दर्शन

अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में हरियाणा योग आयोग की ओर से ब्रह्मसरोवर पर योग के साथ-साथ प्राकृतिक चिकित्सा का अनूठा संगम देखने को मिल रहा है और योग प्रेमी इसका भरपूर फायदा उठा रहे हैं। हरियाणा योग आयोग की ओर से ब्रह्मसरोवर पर प्रदर्शनी लगाई गई है, जिसमें पंचकर्म सहित षट्कर्म और विभिन्न क्रियाएं भी साथ-साथ में सिखाई जा रहे हैं। योग साधक योग के अनेक टिप्स देते हुए लोगों को योग भी करवाते हैं और पंचकर्म की जो पद्धतियां हैं जिनमें शिरोधारा, जलनेति सूत्र नेति, योग आसन इत्यादि के साथ-साथ अन्य 10 सिद्धांतों के बारे में भी पूर्ण जानकारी दी जा रही है।

प्रसिद्ध भजन गायक विशाल शैली पटियाला ने खाटू श्याम के भजनों से पर्यटकों को किया भक्तिमय

प्रसिद्ध भजन गायक विशाल शैली पटियाला ने महोत्सव के दौरान मैं भी खाटू सपने हजार लेके, मुझे पूरा है भरोसा जाऊंगा तो कुछ लेके, इस भजन के साथ बाबा खाटू श्याम की महिमा का गुणगान किया। उन्होंने जिसका हमें था इंतजार, राम-सीया राम, रामजी की निकली सवारी,रामजी की लीला है न्यारी, चल खाटू नू चलिए, मेरा श्याम पुकारे, ओम नमों शिवाय, बम भोले-बम भोले यही वो तरंग है आदि भजनों के द्वारा दर्शकों एवं श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। भजन गायक विशाल शैली पटियाला के धार्मिक भजनों पर युवा, बच्चे,महिलाएं एवं पुरूष झूमते नजर आए।

ALSO READ :   Viral Video : दुल्हन ने विदाई के समय की ऐसी हरकत, वीडियो सोशल मीडिया पर हुई वायरल

 

I am working as an Editor in Bharat9 . Before this I worked as a television journalist with a demonstrated history of working in the media production industry (India News, India News Haryana, Sadhna News, Mhone News, Sadhna News Haryana, Khabarain abhi tak, Channel one News, News Nation). I have UGC-NET qualification and Master of Arts (M.A.) focused in Mass Communication from Kurukshetra University. Also done 2 years PG Diploma From Delhi University.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *