सिर्फ 22 साल की उम्र में बनीं IAS, सीएम ऑफिस में मिली पोस्टिंग, सबसे खास है स्मिता की कहानी

सिर्फ 22 साल की उम्र में बनीं IAS, सीएम ऑफिस में मिली पोस्टिंग, सबसे खास है स्मिता की कहानी

Success Story, IAS Smita Sabharwal). देश के विभिन्न आईएएस ऑफिसर अपने खास कामों के लिए जाने जाते हैं. आईएएस स्मिता सभरवाल अब किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं. उनके नाम पर कई ऐसे रिकॉर्ड दर्ज हैं, जिन्हें तोड़ पाना किसी के लिए भी आसान नहीं होगा. सक्सेस स्टोरी सीरीज़ में आज जानिए आईएएस स्मिता सभरवाल (IAS Smita Sabharwal) की प्रेरक कहानी.

आईएएस स्मिता सभरवाल (IAS Smita Sabharwal Success Story) तेलंगाना में तैनात हैं. उन्हें ‘जनता की अधिकारी’ कहा जाता है. उनके काम करने का अंदाज काफी हटकर है. उनके संघर्ष और ईमानदारी ने उन्हें जनता के बीच काफी लोकप्रिय बना दिया है. उनके दबंग अंदाज को देखकर लोग उनका काफी सम्मान करते हैं (Smita Sabharwal Present Posting).12वीं में बनीं बोर्ड परीक्षा की टॉपर
स्मिता सभरवाल का जन्म 19 जून 1977 को पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में हुआ था. उनके पिता रिटायर्ड सेना अधिकारी कर्नल प्रणब दास हैं. उनकी मां का नाम पुरबी दास है. पिता की आर्मी जॉब होने की वजह से स्मिता अलग-अलग शहरों में पली-बढ़ी हैं. रिटायरमेंट के बाद वे हैदराबाद में सेटल हो गए. स्मिता की स्कूलिंग वहीं हुई है. वे 12वीं में ISC टॉपर थीं. फिर उन्होंने कॉमर्स स्ट्रीम से ग्रेजुएशन की पढ़ाई की थी.

ALSO READ :   Success Story: जानिए कैसे हरियाणा की रहने वाली दिव्या तंवर IPS से IAS बनीं?

दूसरे प्रयास में मिली चौथी रैंक
स्मिता सभरवाल (IAS Smita Sabharwal) अपने पहले अटेंप्ट में प्रीलिम्स परीक्षा भी पास नहीं कर पाई थीं. लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और दोगुनी मेहनत के साथ तैयारी की. साल 2000 में अपने दूसरे प्रयास में वे यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) पास करने वाली सबसे कम उम्र की स्टूडेंट बनीं. इसमें उन्होंने ऑल इंडिया लेवल पर 4th रैंक हासिल की थी (Smita Sabharwal Rank).

इतनी जगह मिला सम्मान
स्मिता ने तेलंगाना कैडर से आईएएस की ट्रेनिंग ली थी. नियुक्ति के बाद वे चित्तूर में सब-कलेक्टर रहीं. वे कडप्पा रूरल डेवलपमेंट एजेंसी की प्रोजेक्ट डायरेक्टर, वारंगल की नगर निगम कमिश्नर और कुरनूल की संयुक्त कलेक्टर रही हैं. वे तेलंगाना के वारंगल, विशाखापट्टनम, करीमनगर और चित्तूर में पोस्टेड रह चुकी हैं. उन्हें हर जगह काफी सम्मान मिला.

सीएम ऑफिस में हुईं तैनात
आईएएस स्मिता तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात होने वाली पहली महिला आईएएस अधिकारी  हैं. स्मिता ने आईपीएस ऑफिसर डॉ. अकुन सभरवाल (IPS Akun Sabharwal) से शादी की है. उनके दो बच्‍चे नानक (Nanak Sabharwal) और भुविश हैं. स्मिता सभरवाल सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में रहती हैं. उनके काम करने के अंदाज और गरीबों की मदद के जुनून को सराहा जाता है.

ALSO READ :   Sania Mirza Fitness Routine: सानिया मिर्जा आज भी हैं सुपरफिट, जानिए उनका फिटनेस रूटीन और डाइट प्लान

इस विवाद से जुड़ा नाम
स्मिता सभरवाल का नाम एक विवाद के साथ भी जुड़ा है. उन्होंने एक आपत्तिजनक कार्टून छापने पर आउटलुक मैगजीन को नोटिस भेज दिया था. दरअसल, मैगजीन के कार्टून में स्मिता को रैंप वॉक करते हुए दिखाया था और तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव उनकी फोटो खींच रहे थे (Smita Sabharwal Fashion Show). कार्टून के साथ लिखा था कि स्मिता मीटिंग में ट्रेंडी साड़ी और कपड़े पहनकर आती हैं. इस कार्टून पर आपत्ति जताते हुए स्मिता ने आउटलुक को कानूनी नोटिस भेजकर जवाब मांगा था.

I am working as an Editor in Bharat9 . Before this I worked as a television journalist with a demonstrated history of working in the media production industry (India News, India News Haryana, Sadhna News, Mhone News, Sadhna News Haryana, Khabarain abhi tak, Channel one News, News Nation). I have UGC-NET qualification and Master of Arts (M.A.) focused in Mass Communication from Kurukshetra University. Also done 2 years PG Diploma From Delhi University.

ALSO READ :   Punjab News: पंजाब में मातृ वंदना योजना के तहत 52229 लाभार्थियों को  बांटे गए 25 करोड़ रुपये 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *